स्लिपडिस्क की समस्या को कैसे पहचाने ?

15
Feb
स्लिपडिस्क की समस्या को कैसे पहचाने ?

स्लिप डिस्क के बारे में पता कैसे लगाएं?

डा संजय शर्मा [Algologist]

[senior consultant interventional pain physician)

#JPRCNeuroSpineCentre

#स्लिपडिस्क की समस्या का पता लगाने के लिए आपका डॉक्टर सबसे पहले आपके सम्बंधित लक्षणों और स्वास्थ्य स्थितियों की जानकारी ले सकते हैं। जिसके आधार पर वो आपको निम्न टेस्ट कराने की सलाह दे सकते हैं, जिनमें शामिल हो सकते हैंः

क्लिनिकल इग्ज़ैमिनेशन-

डॉक्टर आपके सामान्य चलने-फिरने, दौड़ने, शारीरिक गतिविधियों के दौरान आपकी शारीरिक स्थिति का आंकलन कर सकते हैं।लेकिन एक योग्य चिकित्सक नसों या माँस पेशियों  या वर्टेब्रा से सम्बंधित सभी प्रकार की जाँच करते है !

एक्स-रे

आपके दर्द का कारण कोई चोट के कारण दर्द या  फ़्रैक्चर या डिस्लोकेशन है या नहीं, इसकी जांच करने के लिए डॉक्टर एक्स-रे की सलाह दे सकते हैं।

सीटी स्कैन

सीटी स्कैन के जरिए इसकी जांच की जा सकती है कि क्या आपके वर्टेब्रा या #डिस्क में किसी तरह की कोई चोट लगी है या नहीं या उसके आकार या दिशा में कोई परिवर्तन आया है या नहीं।औरकोई असाधारण haematoma या स्पाइनल कनाल में परिवर्तन एत्यादि!

एमआरआई टेस्ट

एमआरआई टेस्ट की मदद से आपके डिस्क की जगह में कोई परिवर्तन आया है या नहीं और यह तंत्रिका तंत्र नस का दबाव, को किस तरह प्रभावित कर रही है, # कनाल से नसें  कैसे निकल रही है,स्पाइनल कॉर्ड ,डिस्क,लिग़मेंट्स ,इसकी जांच की जा सकती है।

मायलोग्राम  (Myelogram)

 इस टेस्ट के दौरान रीढ़ की हड्डी में एक तरह का contrast डाई इंजेक्ट किया जाता है जो तरल पदार्थ के रूप में होता है। जिसके बाद रीढ़ की हड्डी का फ़्लुओरोस्कोपिक एक्स-रे किया जाता है। इससे इसकी जांच की जा सकती है कि रीढ़ की हड्डी या नसों पर किस तरह का दबाव पड़ रहा है।

डिसकोग्राफ़ी-

इस तकनीक में एक्स्पर्ट स्पाइनस्पेशलिस्ट या painphysician फ़्लुओरोस्कोपिक गाइडेन्स में एक नीडल से होश में लोकलanaesthesia के साथ डिस्क में contrast -dye डालकर डिस्क की स्थिति  देख कर उसपर निर्णय लेते है!

कोनसी डिस्क में ख़राबी है इस विशेष जाँच को केवल  pain physician, neurologist , neurosurgeon or ortho Doctor ही करते है!

लेकिन अकेलेX-rays को देखकर आपका डाक्टर स्पाइन से निकलने वाली नस पर कैसा दबाव हो रहा है? इसका पता नहीं कर सकता ! X-ray केवल [रीढ़ क़ी हड्डी] की स्थिति ही बता सकता है! यदिआपकोअपने #स्पाइन की पूर्ण जानकारी चाहिए तो MRI करवाना होगा!

80% मरीज़ों में साधारण रूप से डिस्क में दबाव L 4-5 or L5 S1 में (diffuse disc bulge or protrusion दिखायी देता है! इसको लेकर मरीज़ चिंतित रहता है, कुछ को ऑपरेशन बताया जाता है! इस भ्रम से निवारण के लिए किसी #neurosurgeon ,#painphysician,#neurophysician या स्पाइनसर्जन से परामर्श करे!